सच्चिदानन्दवात्स्यायनः

अधि विकिपीडिया, एकः स्वतन्त्रविश्वविज्ञानकोश
(सच्चिदानन्द वात्स्यायन इत्यस्मात् पुनर्निर्दिष्टम्)
अत्र गम्यताम् : सञ्चरणं, अन्वेषणम्

सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन (अज्ञेय) (१९११-१९८७) एक: प्रमुख: हिन्दी कथाकार: कवि: च आसीत्‌.

पश्‍य[सम्पादयतु]

अनेन बहवः गद्यात्मकाः पद्यात्मकाः हिन्दी ग्रन्थाः सम्पादिताः|केषांचित ग्रंथानां नामानि निम्नलिखितानि वर्तन्ते| भग्नदूत / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1935) चिन्ता / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1942) इत्यलम् / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1946) शरणार्थी / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1948) हरी घास पर क्षण भर / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1949) बावरा अहेरी / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1954) इन्द्र-धनु रौंदे हुए थे / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1957) अरी ओ करुणा प्रभामय / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1959) आंगन के पार द्वार / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1961) कितनी नावों में कितनी बार / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1967) क्योंकि मैं उसे जानता हूँ / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1969) सागर-मुद्रा / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1969) पहले मैं सन्नाटा बुनता हूँ / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1973) महावृक्ष के नीचे / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1977) नदी की बाँक पर छाया / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1981) ऐसा कोई घर आपने देखा है / अज्ञेय (कविता संग्रह, 1986)

अनेन "कितनी नावों में कितनी बार" ग्रन्थस्य कृते ज्ञानपीठ पुरस्कारः अपि लब्धः|