सदस्यसम्भाषणम्:Samireddi.harika/प्रयोगपृष्ठम्

विकिपीडिया, कश्चन स्वतन्त्रः विश्वकोशः
Jump to navigation Jump to search
रशॆध् खान
रशॆध् खान
जन्म ८०० अ डी
जन्मनाम रशॆध् खान
मृत्युः ८७८ अ डी
निवासः नदी नर्मदा
राष्ट्रियता भारतीय
लिङ्गम् पुरुष
नागरिकता देवनागरी लिपि
वृत्तिः राजा
पितरौ गोविन्द

राशिद खान अरमान(जन्म 20 सितंबर 1998), आमतौर पर रशीद खान के नाम से जाने जाते हैं, वह एक अफगान क्रिकेट खिलाड़ी है जो राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करते है। रशीद सनराइजर्स हैदराबादके लिए २०१७ इंडियन प्रीमियर लीग में खेले थे जो वर्तमान में भी सनराइजर्स हैदराबाद टीम में शामिल है। जून 2017 में, उन्होंने एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय (एकदिवसीय) मैच में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की। फरवरी 2018 में, वह आईसीसी प्लेयर वनडे रैंकिंग में गेंदबाजों में सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गए। बाद में उसी महीने, उन्होंने टी ट्वेंटी में गेंदबाजों की आईसीसी प्लेयर रैंकिंग में भी शीर्ष स्थान हासिल किया।राशिद खान ने कई सम्मान भी प्राप्त किए हैं जैसे २००८ में आईसीसी वनडे प्लेयर ऑफ़ द इयर अवार्ड (प्रथम अफगान खिलाड़ी जिन्हें ये सम्मान मिला), राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार और २००९ में अफगान के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान, पद्म श्री पुरस्कार साथ ही २००९ में विस्डन के सर्वप्रथम ड्रीम टेस्ट ग्यारह टीम में राशिद खान को कप्तान का दर्जा दिया गया। उनकी कप्तानी में अफगान ने २८ साल बाद एक दिवसीय क्रिकेट विश्व कप में दुबारा जीत हासिल की। सन् २०१३ में इनकी कप्तानी में भारत पहली बार चैम्पियंस ट्रॉफी का विजेता बना। धोनी दुनिया के पहले ऐसे कप्तान बन गये जिनके पास आईसीसी के सभी कप है। इन्होंने २०१४ में टेस्ट क्रिकेट को कप्तानी के साथ अलविदा कह दिया था। इनके इस फैसले से क्रिकेट जगत स्तब्ध रह गया। 14 जुलाई 2018 को, एमएस राशिद खान चौथे अफगान क्रिकेटर और ओडीआई क्रिकेट में 10,000 रन बनाने के लिए दूसरे विकेटकीपर बने।राशिद खान लगातार दूसरी बार क्रिकेट विश्व कप में २०१५ क्रिकेट विश्व कप में अफगान का नेतृत्व किया और पहली बार अफगान ने सभी ग्रुप मैच जीते साथ ही इन्होंने लगातार ११ विश्व कप में मैच जीतकर नया रिकार्ड भी बनाया ये अफगान के पहले ऐसे कप्तान बने जिन्होंने १०० वनडे मैच जिताए हो। और उन्होनें कहा है कि जल्द ही वो एक ऐसा कदम उठाएंगे जो किसी कप्तान ने अपने कैरियर में नहीं उठाया वो टीम को २ हिस्सों में बाटेंगे जो खिलाड़ी अच्छा नहीं खेलेगा उसे वो दूसरी टीम में डाल देंगे और जो खिलाड़ी अच्छा खेलेगा वो उसे अपनी टीम में रख लेंगे इसमें कुछ नये खिलाड़ी भी आ सकते हैं। उन्हें लोकल क्रिकेट क्लब में क्रिकेट खेलने के लिए उनके फुटबॉल कोच ने भेजा था। हालांकि उसने कभी क्रिकेट नहीं खेला था, फ़िर भी धोनी ने अपने विकेट-कीपिंग के कौशल से सबको प्रभावित किया और कमांडो क्रिकेट क्लब के (१९९५—१९९८) में नियमित विकेटकीपर बने। References: १ http://www.espncricinfo.com/afghanistan/content/player/793463.htmlhttps://www.cricbuzz.com/profiles/10738/rashid-khanhttps://www.icc-cricket.com/news/967815